CUET Hindi Language Sample Paper

Hindi Language Sample Paper of CUET (UG) Entrance Exam is for free download. Hindi paper with passages and MCQ questions for the practice and preparation of upcoming CUET 2023 Exam.

As per latest syllabus CUET Hindi Language to be tested through Reading Comprehension (based on different types of passages. Accordingly following sample paper have been prepared.

CUET Sample Paper (Hindi Language)

निर्देश : 50 में से कोई 40 प्रश्न हल करें
कुल समय : 45 मिनट

Q. 1 से 5 : निम्नलिखित गद्यांश को ध्यानपूर्वक अंत में दिए गए प्रश्नों के विकल्पों में से सही विकल्प चुनिए l

जो विद्या की इच्छा रखता है l वह विद्यार्थी है l मनुष्य जीवन भर कुछ न कुछ सीखने की इच्छा रखता है l इस दृष्टी से वह सदैव विद्यार्थी रहता है, किन्तु स्थूल रूप से मानव जीवन में विद्यार्थी काल बहुत लंबा नहीं है l यह मनुष्य के जीवन का स्वर्णिम काल है l विद्यार्थी जीवन हंसने-हंसाने का समय है l खेल-खेल में पढ़ाई का अभ्यास इसी उम्र में होता है l माता-पिता लाड़-प्यार करते हैं l परिवारजन स्नेह की वर्षा से अबोध मन को गुदगुदाते हैं l नित नए मित्र बनते हैं, छेड़-छाड़ चलती है l कभी-कभी बात बढ़ जाती है और नौबत मार-पीट हाथपाई तक आ जाती हैं , परन्तु सारा द्वेष समस्त क्रोध, सारी कड़वाहट दूसर पल ही नष्ट हो जाती है l आज जिससे लड़े उड़ाने का यह मस्ताना मौसम चाहे कितना छोटा क्यों न हो, लुभावना और सुहावना होता है l

Q.1: प्रस्तुत अंश में जोर दिया गया है :
A. स्कूली शिक्षा पर
B. चरित्र निर्माण पर
C. अनुशासन पर
D. विद्यार्थी जीवन का विशेष मानसिकता पर

Q.2: विद्यार्थी जीवन मोहक है क्योंकि :
A. अल्पकालिक है l
B. प्रत्येक इच्छा माता-पिता द्वारा पूरी की जाती है l
C. परिवार, विद्यालय एंव मित्रों के बीच सर्वत्र आम्मीय वातावरण विद्यमान रहता है l
D. किसी प्रकार के अनुशासन की अपेक्षा नहीं होती l

Q.3: विद्यार्थी जीवन का आपसी लड़ाई-झगड़ा जल्दी समाप्त हो जाने का कारण है :
A. मन का सरल, निष्कपट भावना
B. बचपन से ही अनुशासन सिखाया जाता है l
C. अकेले रह जाने का आतंक
D. अध्यापक द्वारा दण्डित किये जाने का भय

Q.4: मनुष्य सदैव विद्यार्थी है क्योंकि :
A. वह बड़ी से बड़ी डिग्री हासिल करना चाहता है l
B. उसका अहंकार शांत होता है l
C. वह ऊँचे से ऊँचे पद पर पहुंचना चाहता है l
D. वह सदैव कुछ नया सीखने का इच्छा रखता है l

Q.5: ‘अबोध’ शब्द का अभिप्राय है :
A. मोहक
B. सरल
C. उत्साहित
D. प्रसन्न

Q. 6 से 10 : निम्नलिखित गद्यांश को ध्यानपूर्वक अंत में दिए गए प्रश्नों के विकल्पों में से सही विकल्प चुनिए l

जो लोग यह सोचते है कि महिलाओं को घरों की चहारदीवारियों में ही कैद रहना चाहिए, उनकी मानसिकता संकीर्ण है l ऐसा इसलिए कि महिलाएँ भी तो मानव हैं l उन्हें भी अपने अच्छे-बुरे के संबंध में सोचने तथा विकास करने का अधिकार है l ‘मनुष्य एक विवेकशील प्राणी है’-यह सर्वमान्य सिद्धांत केवल पुरुषों के लिए तो नहीं है l महिलाएँ भी विवेकशील हैं और वे भी अपना अच्छा-बुरा समझती हैं l हाँ, इतना अवश्य है कि जिस समाज में इतनी लंबी अवधि तक महिलाओं को दबाकर रखा गया है, वहाँ आरंभ में उनके उत्थान के लिए आरक्षण जैसी व्यवस्था करनी ही पड़ेगी l जब हमारे देश में अनुसूचित जातियों एंव जनजातियों के उत्थान के लिए लगातार अनेक वर्षों तक आरक्षण की व्यवस्था की जा सकती हैं , तो महिलाओं के लिए क्यों नहीं ? आखिर कब तक महिलाएँ मनु की उस सूक्ति का पालन करती रहेंगी, जिसमें कहा गया है कि महिलाओं को बाल्यकाल में पिता, युवावस्था के बाद पति और वृद्धावस्था में पुत्र के संरक्षण में अपना जीवन व्यतीत करना चाहिए l महिलाओं को अबला कहा जाता है और जीवन के व्यावहारिक क्षेत्र में उनकी अपेक्षा की जाती है l ‘अबला जीवन हाय तुम्हारी यही कहानी, आँचल में है दूध और आँखों में पानी’ कहकर उन्हें उनके हाल पर ही छोड़ दिया जाता है, परन्तु पुरुषों को यह ज्ञात होना चाहिए कि समय आने पर महिलाएँ दुर्गा और काली का रूप भी धारण कर सकती हैं और अपने आत्मसम्मान की प्राप्ति एंव उसकी रक्षार्थ कुछ भी कर सकती हैं l

Q.6: मनु की सूक्ति के अनुसार, वृद्धावस्था में महिलाएँ किसके संरक्षण में अपना जीवन व्यतीत करती हैं ?
A. स्वयं के
B. पति के
C. ईश्वर के
D. पुत्र के

Q.7: जीवन के किस क्षेत्र में महिलाओं की सर्वाधिक उपेक्षा की जाती है ?
A. सैद्धांतिक
B. व्यावहारिक
C. नैतिक
D. राजनितिक

Q.8: महिलाओं के उत्थान के लिए सर्वप्रथम किसकी व्यवस्था की जानी चाहिए ?
A. आरक्षण
B. चहारदीवारी के भीतर प्रगति के अवसर उपलब्ध कराना
C. बौद्धिकता की परीक्षा लेना
D. (a) और (b) दोनों

Q.9: महिलाएँ निम्न में से किसकी रक्षा हेतु काली व दुर्गा का रूप ग्रहण क्र लेती हैं ?
A. स्वाभिमान
B. धन
C. विवेक
D. नैतिक मूल्य

Q.10: महिलाओं को घर में ही कैद रहना चाहिए यह किस मानसिकता का सूचक है ?
A. अविवेकी
B. व्यापक
C. सामर्थ्यवान
D. संकुचित

Q. 11 से 15 : निम्नलिखित गद्यांश को ध्यानपूर्वक अंत में दिए गए प्रश्नों के विकल्पों में से सही विकल्प चुनिए l

“यात्रा शिक्षा का साधन है l शिक्षा का उद्देश्य चरित्र निर्माण है l जब हम यात्रा करते है, तो हमें चींजे संभालनी पड़ती है, अपना टिकट रखना पड़ता है और ठीक समय पर गाड़ी पकड़नी होती है l धनी व्यक्ति अपने नौकरों से यह सब काम करा लेते हैं लेकिन भारत गरीबों का देश है l यात्रा में हमें अपनी मदद आप करनी पड़ती है l भिन्न-भिन्न स्थानों को देखने और सभी तरह के लोगों से बात करने में हमें बहुतेरी नई चीजें सीखते हैं l यूरोप में यात्रा के बिना शिक्षा समझी जाती हैं प्राचीन भारत तीर्थ यात्रा को बड़ा महत्व दिया जाता था l इस देश में भ्रमण बड़ा आनन्द हो सकता है l “

Q11: किन कारणों के बिना शिक्षा अधूरी होती है ?
A. यात्रा के कारण
B. तीर्थ न करने के कारण
C. कोई नहीं
D. क और ख दोनों

Q.12: यात्रा किसका साधन है ?
A. शिक्षा का
B. व्यक्ति का
C. संपत्ति का
D. जीवन का

Q.13: यात्रा करते समय क्या-क्या कार्य करना आवश्यक है ?
A. गाड़ी का बैठना
B. वस्तुएं संभालना, टिकट रखना, सही समय पर गाड़ी पकड़ना
C. कोई नहीं
D. यात्रा की पूर्व जानकारी

Q.14: उपर्युक्त अवतरण का शीर्षक होगा :
A. यात्रा का महत्व
B. तीर्थ यात्रा
C. शिक्षा का साधन
D. चरित्र निर्माण

Q.15: ‘शिक्षा’ शब्द का पर्यायवाची नहीं है :
A. विद्या
B. तालीम
C. सीख
D. कला

Q. 16 से 20 : निम्नलिखित गद्यांश को ध्यानपूर्वक अंत में दिए गए प्रश्नों के विकल्पों में से सही विकल्प चुनिए l

अपने कार्य को स्वयं ही करना स्वावलंबन कहलाता है l यदि मनुष्य जीवन की किसी भी स्थिति में अपना कार्य स्वयं करे, तो वह स्वावलंबी कहलाता है l स्वावलंबी होना नागरिक का महान गुण है l स्वावलंबन बडप्पन का गुण है l कहते हैं कि एक दिन प्रसिद्ध विद्वान ईश्वरचन्द्र विद्यासागर रेलवे स्टेशन के बाहर खड़े थे, तभी भीतर से एक व्यक्ति हाथ में एक छोटा बक्सा लिए उनके पास आया l उन्हें साधारण वेश में देखकर भूल से कुली समझ बैठा और बोला, “मेरा सामान ले चलोगे ?” ईश्वरचंद्र बिना कुछ बोले उसका सामान उठाकर चल दिए l लक्ष्य पर पहुँचकर जब वह उन्हें मजदूरी देने लगा तो वे बोले, “मजदूरी नहीं चाहिए l तुम अपना काम स्वंय नहीं कर सकते, इसलिए मैंने तुम्हारी सहायता कर दी l ” व्यक्ति लज्जित हुआ l
जब उसे यह पता चला कि वह कुली बंगाल का प्रसिद्ध विद्वान है, तो वह उनके पैरों में गिर पड़ा l अपना कार्य स्वयं करने की सौगंध ली l तात्पर्य यह है कि कोई कितना भी बड़ा अधिकारी, साहूकार या धनवान क्यों न हो, उसे स्वावलंबी बनना चाहिए l आप डॉक्टर या इंजीनियर बनना चाहते हैं , वकील या प्राध्यापक बनना चाहते है, व्यापारी या नेता बनना चाहते हैं – स्वावलंबन सबके लिए अनिवार्य है l बड़ा व्यक्ति बनने के मार्ग में अनेक बाधाएँ आती हैं l यदि उनके कारण हम निराश हो जाएँ, संघर्ष से जी चुराएँ या मेहनत से दूर रहें, तो भला हमें बडप्पन कहाँ से मिलेगा ? आपने भारत के स्वर्गीय प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री का नाम सुना होगा, जिन्होंने वर्ष 1965 में भारत-पाकिस्तान युद्ध में देश का नेतृत्व किया था l देश को विजयी बनाया था और जनता को ‘जय जवान, जय किसान’ के प्रेरणावर्द्धक शब्द दिए थे l वे बड़े निर्धन परिवार से संबंधित थे l नदी पार स्कूल में जाने के लिए नौका वाले को पैसे भी नहीं दे सकते थे, किन्तु उनमें आलस्य नहीं था l अत: प्रतिदिन तैर कर नदी पार करते थे l उन्होंने निराशा को कभी मन में नहीं आने दिया था l
इसी मेहनत और स्वावलंबन का परिणाम था कि एक दिन वे प्रधानमंत्री बने l जब वे प्रधानमंत्री थे, तब भी वे चपरासियों और सहायकों पर आश्रित नहीं रहते थे l अपना कोई भी काम उन्हें छोटा नहीं लगता था l डॉक्टर बनकर यदि आप रोगी की आंशिक देखभाल करें, इंजीनियर बनकर दूसरों पर हुक्म चलाएँ अथवा व्यापारी बनकर अपना हिसाब-किताब स्वयं न देखें, तो व्यवसाय तो डूबेगा ही आपको भी डूबना होगा l दूसरों से कार्य लेते समय भी स्वंय सक्रिय रहना सफलता की प्रथम सीढ़ी है l

Q.16: किसी भी नागरिक का महान गुण क्या है ?
A. परावलंबी
B. स्वावलंबी
C. बौद्धिकता
D. नैतिकता

Q.17: लाल बहादुर शास्त्री ने देशवासियों को कौन-से प्रेरणावर्द्धक शब्द दिए ?
A. वंदे मातरम्
B. करो या मरो
C. इनकलाब जिंदाबाद
D. जय जवान, जय किसान

Q.18: दूसरों से सहयोग लेने के साथ-साथ स्वंय भी सक्रिय रहना किसकी प्रथम सीढ़ी है ?
A. सफलता
B. स्वावलंबन
C. पराधीनता
D. विफलता

Q.19: अपने किन गुणों के कारण लाल बहादुर शास्त्री प्रधानमन्त्री बने ?
A. आशावादी दृष्टिकोण
B. परिश्रम
C. स्वावलंबन
D. ये सभी

Q.20: लाल बहादुर शास्त्री कैसे परिवार से संबंधित थे ?
A. धनी
B. निर्धन
C. मध्यमवर्गीय
D. उच्चवर्गीय

Q. 21 से 25 : निम्नलिखित पद्यांश को ध्यानपूर्वक अंत में दिए गए प्रश्नों के विकल्पों में से सही विकल्प चुनिए l

तुम भीख अन्न की द्वार-द्वार से मांग रहे,
तु भीख द्रव्य की द्वार-द्वार से मांग रहे l
क्या आजादी से मिली तुम्हें ये आजादी ?
तुम कर्ज काढ कर समझे मार छलांग रहे,
यह कौम देश का जब-अज कर्ज चुकायेगी,
इस आजादी की याद हमेशा आयेगी l
बेड़ियाँ कर्ज की और न बाँधो पाँवों में
क्या इससे हमकों नींद चैन की आयेगी ?
है एक गुलामी हटी, दूसरी फिर आई,
यह मर्ज हमारा और बढ़ गया सालों का l
पीछे झंडा फहराना, ऐ झंडे वालों
पहले जवाब दो मेरे चंद सवालों का l

Q.21: द्रव्य का सही अर्थ है :
A. पृथ्वी
B. जल
C. वायु
D. धन

Q.22: “क्या आजादी से मिली तुम्हे यह आजादी” – पंक्ति में “यह आजादी” से क्या अभिप्राय है ?
A. संपन्नता भरी आजादी
B. दरिद्रता भरी आजादी
C. आनंददायी आजादी
D. बंधनों से आजादी

Q.23: उपर्युक्त पद्यांश में किस शब्द का अर्थ ‘रोग’ है ?
A. मर्ज
B. मर्जी
C. गुलामी
D. काढकर

Q.24: कविता में कवि ने किस समस्या पर प्रकाश डाला है ?
A. जनसंख्या की समस्या पर
B. विदेशों से ऋण लेने की समस्या पर
C. दहेज की समस्या पर
D. भ्रष्टाचार की समस्या पर

Q.25: कवि ने कर्ज को किसके समान बताया है ?
A. सहायता के समान
B. बेड़ियों के समान
C. प्रगति के समान
D. बोझ के समान

Q. 26 से 30 : निम्नलिखित गद्यांश को ध्यानपूर्वक अंत में दिए गए प्रश्नों के विकल्पों में से सही विकल्प चुनिए l

सिंधु घाटी की सभ्यता से सम्बन्धित प्रमाणों से पता चलता है कि युद्धकाल और शांतिकाल दोनों अवस्थाओं में लोगों में जागृति पैदा करने के लिए झंडो का उपयोग किया जाता था l भारतीय पुराण ऐसे प्रमाणों से भरे पड़े हैं जिनसे यह सिद्ध होता है कि झंडे को धार्मिक महत्व दिया जाता था l किसी देवी-देवता के सम्मान में झंडारोहण करने को ध्वजादान कहते थे, और इसे एक पुण्य कार्य समझा जाता था l देवी पुराण में देवी दुर्गा के लिए ध्वजा दान का विवरण है l इसी प्रकार अन्य पुराणों में दूसरे देवी-देवताओं की ध्वजाओं के विवरण मिलते हैं l कहते है, भगवान विष्णु गरुण ध्वजा तथा भगवान शिव वृषम ध्वजा के साथ चलते थे l आज भी लोग वैष्णों देवी की यात्रा पर जाते समय माता का लाल ध्वज हाथ में लेकर ही मंदिर जाते हैं l यहीं नहीं मनोकामना पूरी होने पर हनुमानजी के मंदिर पर झंडे का दान आज भी होता है l ऐसे भी प्रमाण प्राप्त हुए हैं जिनसे सिद्ध होता है कि बौद्ध लोग भी अपने आराधना स्थलों का संकेत देने के लिए तथा अपने धर्म के प्रचार के लिए झंडो का उपयोग करते थे l सम्राट अशोक ने बौद्ध धर्म के संदेशों के प्रसार के लिए उनके तीर्थस्थलों पर ध्वजा स्तम्भ निर्मित कराए थे l हमारे राष्ट्रीय ध्वज पर जो धर्मचक्र अंकित है वह सारनाथ में अशोक द्वारा निर्मित स्तम्भ की अनुकृति है l
जैन धर्म में भी अपने तीर्थ स्थानों पर झंडे फहराने की प्रथा थी l जैनियों आदि के पुराणों में अनेक ऐसे संदर्भ मिलते है जिनसे सिद्ध होता है कि प्राचीन राजा मंदिरों में ध्वजादान किया करते थे l इस पुराण के अनुसार उन दिनों पाली-ध्वजा किसी भी जैन मन्दिर का अभिन्न अंग होती थी l जैन धर्म की ध्वजा में पांच रंग की केसरी, बसंती, श्वेत, हरी व काली समतल पट्टियाँ होती है l यह ध्वजा जैन पूजा स्थलों पर फहराता हुआ अब भी देखा जा सकता है l झंडों का उपयोग गुप्तकाल के बाद भी किया जाता रहा है l परवर्ती भारतीय साहित्य से पता चलता है कि ईसा के बाद दसवीं शती में ध्वजा और पताका का अंतर मिट गया और ये दोनों एक-दूसरे के पर्यायवाची हो गए l

Q.26: सिंधु घाटी सभ्यता सम्बन्धी प्रमाणों के अनुसार-
A. युद्धकाल में झंडो का उपयोग किया जाता था
B. शांतिकाल में झंडो का उपयोग किया जाता था
C. युद्धकाल और शांतिकाल दोनों अवस्थाओं में झंडो का उपयोग किया जाता था
D. मनोरंजन काल में झंडो का उपयोग किया जाता था

Q.27: उस समय झंडे के उपयोग का मुख्य उद्देश्य था-
A. उत्साह उत्पन्न करना
B. वीरता उत्पन्न करना
C. शोर मचाना
D. जागृति उत्पन्न करना

Q.28: भारतीय पुराणों के अनुसार झंडे का-
A. नैतिक महत्व
B. राजनितिक महत्व है
C. एतिहासिक महत्व है
D. धार्मिक महत्व है

Q.29: ध्वजादान कहते है-
A. पुरोहितों को झंडे का पैसा देना
B. पुरोहितों को झंडा देना
C. देवी-देवताओं के सम्मान में ध्वजारोहण करना
D. साधु-सन्यासियों को नया झंडा और वस्त्र देना

Q.30: बौद्ध लोग झंडे का उपयोग करते थे-
A. शांति के लिए
B. निर्वाण प्राप्ति के लिए
C. ज्ञान प्राप्ति के लिए
D. अपने आराधना स्थलों का संकेत देने और धर्म के प्रचार के लिए

Q. 31 से 35 : निम्नलिखित गद्यांश के रिक्त स्थानों की पूर्ति गद्यांश के नीचे दिए गए प्रश्नों के अनुसार कीजिए –

प्रदुषण आज के समय का सबसे बड़ा _________ (1) है l प्रदुषण के बढने से धरती पर बहुत सी ______ (2) पैदा हो गयीं जिसे समय रहते न _______ (3) गया तो वो दिन दूर नहीं जब धीरे-धीरे सब खतम हो जाएगा l प्रदुषण के तत्व _________ (4) द्वारा उत्पन्न किये गये पदार्थ या वेस्ट मटेरियल होते हैं जो प्राकृतिक संसाधन जैसे कि वायु, जल और भूमि आदि को प्रदूषित करते हैं l प्रदुषण जहरीली गैस, कीटनाशक, शाकनाशी, ध्वनी, कार्बनिक मिश्रण, रेडियोधर्मी ________ (5) हो सकते हैं l

Q.31: गद्यांश में संकेतित रिक्त स्थान (1) के लिए उपयुक्त शब्द होगा l
A. अभिशाप
B. सफलता
C. वरदान
D. कर्तव्य

Q.32: गद्यांश में संकेतित रिक्त स्थान (2) के लिए उपयुक्त शब्द होगा l
A. घटनाएँ
B. समस्याएँ
C. कथाएँ
D. उम्मीदें

Q.33: गद्यांश में संकेतित रिक्त स्थान (3) के लिए उपयुक्त शब्द होगा l
A. रोका
B. बढ़ाया
C. लगाया
D. उठाया

Q.34: गद्यांश में संकेतित रिक्त स्थान (4) के लिए उपयुक्त शब्द होगा l
A. पेड़ों
B. नदियों
C. मनुष्यों
D. पहाड़ों

Q.35: गद्यांश में संकेतित रिक्त स्थान (5) के लिए उपयुक्त शब्द होगा l
A. पदार्थ
B. विचार
C. हथियार
D. यथार्थ

Q.36: दिए गए वाक्य में रेखांकित खंड को प्रतिस्थापित करने के लिए उपयुक्त विकल्प का चयन करें l
शीतल वायु चल रही है l
A. सुगंधी
B. अनल
C. ठंडी
D. सुरभि

Q.37: निम्नलिखित में से उस विकल्प का चयन करें जो ‘त्रिशंकु होना’ मुहावरे का अर्थ व्यक्त करता है l
A. अधर में लटकना
B. इधर-उधर होना
C. सब जगह रहने वाला
D. शंकालु होना

Q.38: दिए गए शब्द के पर्यायवाची शब्द का चयन करें l
व्यवधान
A. भ्रमण
B. बाधा
C. मिलन
D. प्रीति

Q.39: सही वर्तनी वाले शब्द का चयन करें l
A. भुलककड
B. भुल्ककड
C. भूलक्कड
D. भुलक्कड

Q.40: रिक्त स्थान को भरने के लिए उपयुक्त शब्द का चयन करें l
बागों में _________ खिलते हैं l
A. भौरें
B. पक्षी
C. फूल
D. लड़के

Q.41: दिए गए वाक्य का वह भाग ज्ञात करें जिसमें कोई त्रुटी हैं l
लोकतंत्र एक राजनीतिक व्यवस्था है जो लोगों को सम्मान मानती है l
A. लोकतंत्र एक
B. सम्मान मानती है l
C. राजनीतिक व्यवस्था है
D. जो लोगों को

Q.42: सही वर्तनी वाले शब्द का चयन करें l
A. माखनचौर
B. माकनचोर
C. मखनचोर
D. माखनचोर

Q.43: ‘नैसर्गिक’ का विलोम शब्द है
A. समानार्थक
B. कृत्रिम
C. चमत्कार
D. इनमें से कोई नहीं

Q.44: उसका हृदय इतना कोमल है कि मित्र तो क्या वह अपने ……… को भी चोट नहीं पहुँचा सकता l
A. सहयोगी
B. विपक्षी
C. प्रतिरोधी
D. शत्रु

Q.45: शास्त्र से हमें किसी विषय का ज्ञान विधिपूर्वक होता है और कला से हम उस विषय का ……… सीखते हैं l
A. प्रयोग
B. संयोग
C. उपयोग
D. ज्ञान

Q.46: अंग्रेजी में काम करने का अभ्यास होने के कारण अधिकारी व कर्मचारी हिंदी में अपना काम करने में ………. हैं l
A. झिझकते
B. शर्माते
C. घबराते
D. डरते

Q.47: हिंदी के एक पूर्ण वाक्य को चार भागों में बाँट दिया गया है l आपको चारों भागों को चुनकर सही क्रम में लगाना है
A. परन्तु अधिक संगठित और शक्तिशाली भी है
B. विश्वासराव को तथागत की विशाल सेना का अनुमान था
C. नहीं होगा, क्योंकि तथागत की सेना न केवल संख्या में अधिक है
D. और उसने विचार बना लिया था कि ये साधारण युद्ध
(a) 4, 3, 2, 1
(b) 2, 3, 1, 4
(c) 2, 4, 1, 3
(d) 2, 4, 3, 1

Q.48: वाक्यांश के लिए एक शब्द से सम्बन्धित कौन-सा जोड़ा गलत है ?
A. जिसका इलाज कठिन हो-दु-साध्य
B. जो मनुष्यता से दूर हो-अमानुषित
C. जो कम खर्च करने वाला हो-अपव्ययी
D. जो इतिहास लिखे जाने के युग से पूर्व का हो-प्रागैतिहासिक

Q.49: ‘जो प्रमाण से सिद्द न हो सके’ के लिए एक शब्द है
A. अप्रमाणित
B. अप्रमेय
C. अपरिमित
D. अनप्रमाणित

Q.50: ‘वन में लगने वाली आग’ वाक्यांश के लिए एक शब्द है
A. बडवाग्नि
B. दावाग्नि
C. विरहाग्नि
D. जठराग्नि

Answer Key : CUET Hindi Language Sample Paper

1. (d)2. (c)3. (a)4. (d)5. (b)6. (d)7. (b)8. (a)9. (a)10. (d)
11. (a)12. (a)13. (b)14. (a)15. (d)16. (d)17. (d)18. (a)19. (d)20. (c)
21. (d)22. (c)23. (a)24. (b)25. (b)26. (c)27. (d)28. (d)29. (c)30. (d)
31. (a)32. (b)33. (a)34. (c)35. (a)36. (c)37. (a)38. (b)39. (d)40. (c)
41. (b)42. (d)43. (b)44. (d)45. (c)46. (a)47. (d)48. (c)49. (b)50. (b)

Thanks for attempt CUET (UG) Entrance Exam Hindi Language Sample Paper for 2023 exams.

You may Like : Hindi Language- CUET Sample Paper PDF Download

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *